ऑनलाइन गेमिंग के भ्रामक विज्ञापनों पर MIB ने जताई चिंता, जारी की ये एडवाइजरी

सूचना प्रसारण मंत्रालय ने सभी निजी सैटेलाइट टीवी चैनल्स के लिए एक एडवाइजरी जारी की है।

समाचार4मीडिया ब्यूरो by
Published - Saturday, 05 December, 2020
Last Modified:
Saturday, 05 December, 2020
Online Gaming

सूचना प्रसारण मंत्रालय ने सभी निजी सैटेलाइट टीवी चैनल्स के लिए एक एडवाइजरी जारी की है। इस एडवाइजरी में मंत्रालय ने इन टीवी चैनल्स से ऑनलाइन गेमिंग और फैंटेसी स्पोर्ट्स के विज्ञापनों के संबंध में 'ऐडवर्टाइजिंग स्‍टैंडर्ड्स काउंसिल ऑफ इंडिया (ASCI) की गाइडलाइंस का पालन करने के लिए कहा है।

ऑनलाइन गेमिंग पर ‘भ्रामक’ विज्ञापनों को लेकर चिंता जताते हुए मंत्रालय ने सभी टीवी चैनल्स से कहा है कि वे आय के अवसर या वैकल्पिक रोजगार विकल्प के तौर पर ऐसे विज्ञापन दिखाने से बचें।

मंत्रालय का कहना है कि ऑनलाइन गेमिंग और फैंटेसी स्पोर्ट्स पर बड़ी संख्या में विज्ञापन टीवी चैनल्स पर नजर आ रहे हैं। मंत्रालय के अनुसार, ऐसे विज्ञापन भ्रामक प्रतीत होते हैं, जो उपभोक्ताओं को वित्तीय और अन्य जोखिमों से सही रूप से अवगत नहीं कराते हैं। यह केबल टेलिविजन नेटवर्क्स (रेगुलेशन) एक्ट 1995 और कंज्यूमर प्रोटेक्शन एक्ट 2019 के तहत निर्धारित विज्ञापन संहिता के अनुरूप नहीं हैं।

मंत्रालय का कहना है कि तमाम विचार विमर्श के बाद निर्णय लिया गया है कि विज्ञापनों के पारदर्शी होने और कंज्यूमर्स की सुरक्षा सुनिश्चित करने के तहत एडवर्टाइजर्स और ब्रॉडकास्टर्स के लिए ‘ASCI’ द्वारा जारी गाइडलाइंस का पालन करना जरूरी है। ‘ASCI’ ने इन गाइडलाइंस को 15 दिसंबर 2020 से प्रभावी किए जाने का प्रस्ताव रखा है।

मंत्रालय का कहना है, ‘सभी बॉडकास्टर्स को सलाह दी जाती है कि वे ‘ASCI’ द्वारा जारी गाइडलाइंस का पालन करें। यह भी सुनिश्चित किया जाये कि विज्ञापन ऐसी किसी भी गतिविधि को बढ़ावा नहीं देने वाले हों जो विधि या कानून द्वारा निषिद्ध हैं।’

ऑनलाइन गेमिंग, फैंटेसी स्पोर्ट्स के विज्ञापनों को लेकर जारी ASCI की गाइडलाइंस को आप यहां देख सकते हैं।

: No gaming advertisement can depict a person below the age of 18, engaging in a game of online gaming for real money win or suggesting that such persons can play these games.

: Gaming advertisements should carry disclaimers on the fact that the game involves an element of financial risk, maybe addictive and that users should play at their own risk.

: Ads should occupy no less than 20% of the space in the print ads.

: In the case of audio or visual programmes, the disclaimer must be placed in normal speaking pace at the end of the advertisement, it must be in the same language as the advertisement, and play out in both audio and visual formats.

: The advertisements should not present ‘online gaming for real money winnings’ as an income opportunity or as an alternative employment option.

: The ads should also not suggest that a person engaged in gaming activity is more successful as compared to others.

: Broadcasters should also ensure that online gaming advertisements do not promote any activity prohibited by statute or law.

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

वरिष्ठ पत्रकार शेखर गुप्ता ने पूरे किए इस शो के हजार एपिसोड, यूं शेयर कीं फीलिंग्स

14 मिनट से ज्यादा के इस वीडियो में शेखर गुप्ता ने इस शो के कॉन्सेप्ट के साथ यह भी बताया है कि कैसे यह इस महत्वपूर्ण मील के पत्थर तक पहुंचा और अपनी पहुंच का विस्तार किया।

Last Modified:
Wednesday, 18 May, 2022
Shekhar Gupta

जाने-माने पत्रकार और ‘द प्रिंट’ (The Print) के फाउंडर और एडिटर-इन-चीफ शेखर गुप्ता ने अपने डिजिटल शो ‘कट द क्लटर’ (Cut The Clutter) के एक हजार एपिसोड पूरे कर लिए हैं। इस मौके पर खुशी जताते हुए उन्होंने एक वीडियो भी शेयर किया है।

14 मिनट से ज्यादा के इस वीडियो में शेखर गुप्ता ने इस शो के कॉन्सेप्ट के बारे में बताया है और यह भी बताया है कि कैसे यह इस महत्वपूर्ण मील के पत्थर तक पहुंचा और अपनी पहुंच का विस्तार किया।

इसके साथ ही शेखर गुप्ता ने बताया कि शुरुआत में अपनी डिजिटल स्ट्रैटेजी को अंतिम रूप देने में उन्हें एक साल से अधिक का समय लगा। अब ‘द प्रिंट’ को जल्द ही पांच साल पूरे होने वाले हैं और 1000 एपिसोड निश्चित रूप से पूरी टीम के लिए मनोबल बढ़ाने वाले हैं।

गुप्ता ने इस कॉन्सेप्ट के लिए वरिष्ठ पत्रकार मिलिंद खांडेकर को भी श्रेय दिया है, जो वर्तमान में टीवी टुडे नेटवर्क में ‘तक चैनल्स’ के मैनेजिंग एडिटर (National and Regional) के तौर पर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं।

शेखर गुप्ता के अनुसार, इस शो के पीछे का आइडिया यह था कि दर्शकों को सामान्य से कुछ अलग हटकर कंटेंट पेश किया जाए, जो वह आमतौर पर रोजाना न्यूज चैनल्स पर देखते हैं।

शेखर गुप्ता द्वारा इस बारे में शेयर किए गए वीडियो को आप यहां भी देख सकते हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

Netflix ने 150 एम्प्लॉयीज को दिखाया बाहर का रास्ता, बताई ये वजह

इसके साथ ही कंपनी ने 70 अंशकालिक नौकरियों (part-time jobs) को खत्म करने का भी फैसला लिया है, जो इसके एनिमेशन स्टूडियो का हिस्सा हैं।

Last Modified:
Wednesday, 18 May, 2022
Netflix

लोकप्रिय स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म ‘नेटफ्लिक्स’ (Netflix) ने अमेरिका में अपने 159 एम्प्लॉयीज को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। इस ‘ओवर द टॉप’ (OTT) प्लेटफॉर्म ने व्यावसायिक जरूरतों (business needs) का हवाला देते हुए कहा है कि यह फैसला व्यक्तिगत प्रदर्शन के आधार पर नहीं लिया गया है।

इसके साथ ही कंपनी ने 70 अंशकालिक नौकरियों (part-time jobs) को खत्म करने का भी फैसला लिया है, जो इसके एनिमेशन स्टूडियो का हिस्सा हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, इस बारे में नेटफ्लिक्स का कहना है, ‘ये बदलाव मुख्य रूप से व्यक्तिगत प्रदर्शन के बजाय व्यावसायिक जरूरतों से प्रेरित हैं। यह हमारे लिए काफी मुश्किल फैसला है, क्योंकि हममें से कोई भी ऐसे अच्छे सहयोगियों को अलविदा नहीं कहना चाहता है।’

बताया जाता है कि नेटफ्लिक्स को हाल ही में बीते एक दशक में सबसे ज्यादा सबस्क्राइबर्स का नुकसान झेलना पड़ा है और इसने आगामी तिमाही में भी सबस्क्राइबर्स में कटौती की आशंका जताई है। यही कारण है कि कंपनी ने 150 एंप्लॉयीज को नौकरी से निकालने का ऐलान किया है।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

ZEEL डिजिटल फील्ड में कर रही विस्तार, लॉन्च किया टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन सेंटर

देश की अग्रणी मीडिया कंपनी जी एंटरटेनमेंट अब डिजिटल फील्ड में अपना विस्तार कर रही है।

Last Modified:
Saturday, 14 May, 2022
zee4589

देश की अग्रणी मीडिया कंपनी जी एंटरटेनमेंट अब डिजिटल फील्ड में अपना विस्तार कर रही है। इस कवायद के तहत कंपनी ने बेंगलुरु में शुक्रवार को जी टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन सेंटर (Zee Technology And Innovation Center) की शुरुआत की। इस सेंटर को कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसावराज बोमाई ने लॉन्च किया। इससे पहले कर्नाटक के राज्यपाल थावर चंद गहलोत भी ओपनिंग सेरेमनी में शामिल हुए। इस मौके पर जी एंटरटेनमेंट इंटरप्राइजेज के डिजिटल बिजनेस प्लेटफॉर्म्स के प्रेसिडेंट अमित गोयनका और जी के टेक्नोलॉजी एंड डेटा प्रेसिडेंट नितिन मित्तल भी मौजूद रहे।

जी टेक्नोलॉजी एंड इनोवेशन सेंटर 80 हजार फीट में फैला हुआ है।  जी के लिए टेक, डेटा और टैलेंट का एपिसेंटर (Epicentre) यहीं होगा। सेंटर से जी को मेटावर्स की दुनिया में कदम रखने का मौका मिलेगा। इसमें AR, VR और NFT का इस्तेमाल होगा। यानी अब Web 3.0 का इस्तेमाल करने वाली कंपनियों में ZEE भी शामिल हो जाएगी।

टेक्नोलॉजी एंड डेटा प्रेसिडेंट नितिन मित्तल ने कहा युवाओं के लिए कहानियों का स्टाइल अब बदलने वाला है। इस सेंटर से करीब 6 महीनों में Zeeverse की शुरुआत की जाएगी। Zeeverse में कई तरह की NFT होगी। NFT से दर्शकों को कई फायदे मिलेंगे। दर्शक भी Zeeverse के जरिए अपने पसंदीदा और बड़े-बड़े सितारों से मुलाकात कर सकेंगे। Zeeverse से मीडिया और एंटरटेनमेंट के कंजम्प्शन का तरीका बदल जाएगा। साथ ही इस इनोवेशन सेंटर के जरिए रोजगार के भी बड़े मौके खुलेंगे।

कर्नाटक के राज्यपाल थावर चंद गहलोत ने कहा, 'सरकारी मिशन ‘डिजिटल इंडिया’ ने सभी को मनोरंजन और सूचना के लिए सुलभ बना दिया है। ऑगमेंटेड रियलिटी ने सबका ध्यान खींचा है। यहां तक ​​कि कर्नाटक ने भी प्रौद्योगिकी में उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है। ZEE नए इनोवेशन के साथ आया है। शहर में जो उद्यम स्थापित हो रहा है, वह नई उम्मीदों के साथ आता है। मैं जी के लिए शुभकामनाएं देता हूं। मुझे विश्वास है कि यह नई ऊंचाइयों को छुएगा।'

ZEE के डिजिटल बिजनेस एंड प्लेटफॉर्म्स के प्रेसिडेंट अमित गोयनका ने कहा, 'मैं जी की तरफ से इनोवेशन और टेक्नोलॉजी केंद्र को आशीर्वाद देने के लिए राज्यपाल को धन्यवाद देता हूं। टेक्नोलॉजी अपडेट्स के इंटेंस फोकस के साथ जी उम्मीदों पर खरा उतरेगा। कंपनी की अपेक्षाओं को पूरा करने के लिए यह एक एपिसेंटर होगा। यह देश में मीडिया और मनोरंजन के लिए एक नया अध्याय तैयार करेगा।'

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

देश में OTT कंटेंट के विस्तार पर बोले शैलेश लोढ़ा, प्रड्यूसर्स को दी ये सलाह

‘ई4एम स्ट्रीमिंग समिट 2022’ के मौके पर बुधवार को ‘एक्सचेंज4मीडिया’ समूह के फाउंडर व एडिटर-इन-चीफ डॉ. अनुराग बत्रा के साथ बातचीत कर रहे थे ‘तारक मेहता’

Last Modified:
Thursday, 12 May, 2022
e4m Streaming Summit

जाने-माने कवि, लेखक, अभिनेता और ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ धारावाहिक में तारक मेहता का किरदार निभा रहे शैलेश लोढ़ा का कहना है कि ओटीटी (OTT) प्लेटफॉर्म का कंटेंट हमारे समाज से जुड़ा होना चाहिए, तभी लोग इस तरह के कंटेंट को पसंद करेंगे।  

‘ई4एम स्ट्रीमिंग समिट 2022’ (e4m Streaming Summit 2022) के मौके पर बुधवार को ‘बिजनेसवर्ल्ड’ समूह के चेयरमैन व एडिटर-इन-चीफ और ‘एक्सचेंज4मीडिया’ समूह के फाउंडर व एडिटर-इन-चीफ डॉ. अनुराग बत्रा के साथ एक बातचीत में शैलेश लोढ़ा ने कंटेंट तैयार कर रहे लोगों से ऐसी वेब सीरीज का निर्माण करने के लिए कहा, जिसे लोग अपने परिवार के साथ देख सकें।   

शैलेश लोढ़ा के अनुसार, ‘अगर कंटेंट समाज से जुड़ा होगा तो अधिक से अधिक भारतीय ओटीटी प्लेटफॉर्म्स से जुड़ेंगे। कंटेंट ऐसा होना चाहिए कि इसे परिवार के साथ देखा जा सके।’

‘तारक मेहता’ के नाम से घर-घर में मशहूर शैलेश लोढ़ा ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि ओटीटी प्लेटफॉर्म्स पर बच्चों के लिए बहुत कम कंटेंट है। उन्होंने कहा, ‘ओटीटी प्लेटफार्म्स पर बच्चों के लिए शायद ही कोई कंटेंट हो। ऐसे में देश की अधिकांश आबादी इससे वंचित रहती है। प्रड्यूसर्स को बच्चों के लिए भी कंटेंट तैयार करना चाहिए।’ उन्होंने माता-पिता को यह भी सलाह दी कि वह इस बात पर नजर रखें कि उनके बच्चे टीवी और डिजिटल मीडिया पर क्या देखते हैं?

इससे साथ ही लोढ़ा ने इस तरह की आशंकाओं को भी खारिज कर दिया कि ओटीटी और अन्य डिजिटल फॉर्मेट्स के आने के साथ टीवी माध्यम का अस्तित्व समाप्त हो जाएगा। लोढ़ा के अनुसार, ‘जब टीवी आया तो तमाम लोगों को लगा कि प्रिंट का अस्तित्व समाप्त हो जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। अखबार, खासकर स्थानीय भाषा वाले अखबारों की संख्या तेजी से बढ़ी है। इसी तरह टीवी भी बना रहेगा।’

इस बातचीत के दौरान यह पूछे जाने पर कि अगर टीवी में गिरावट आती है तो एडवर्टाइजिंग सेक्टर का क्या होगा? लोढ़ा ने कहा, ‘विज्ञापन वाले लोग बहुत क्रिएटिव होते हैं। वे विज्ञापन देने के नए-नए तरीके तलाश लेंगे।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस तरह के Apps पर कानूनी कार्रवाई करेगा प्रसार भारती

प्रसार भारती ने ऐसे ऐप्स पर कार्रवाई करने का मन बना लिया है

Last Modified:
Tuesday, 10 May, 2022
Prasar Bharati

प्रसार भारती ने ऐसे ऐप्स पर कार्रवाई करने का मन बना लिया है, जो दूरदर्शन व ऑल इंडिया रेडियो के नाम या लोगो की कॉपी कर रहे हैं, या फिर गैरकानूनी तरीके से उनके कंटेंट का प्रयोग कर रहे हैं। गूगल के सहयोग से प्रसार भारती ने इस तरह के ऐप्स की पहचान कर ली है और गूगल इन्हें अपने प्लेटफॉर्म से हटाने की कवायद में है।

देश के सार्वनजिक प्रसारणकर्ता ने कहा कि दूरदर्शन या ऑल इंडिया रेडियो की तरह दिखने वाले उन फर्जी ऐप्स के खिलाफ जल्द ही कानूनी कार्रवाई शुरू की जाएगी, जो अपने ऐप्स, वेबसाइट्स, यू-ट्यूब चैनल्स या किसी अन्य प्लेटफॉर्म पर दूरदर्शन व ऑल इंडिया रेडियो के कंटेंट का अवैध रूप से उपयोग कर रहे हैं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

युवा पत्रकार निर्मला बोहरा ने इस मीडिया समूह के साथ शुरू किया नया सफर

इस नई भूमिका को संभालने से पहले निर्मला देहरादून में करीब साढ़े नौ साल से ‘अमर उजाला’ डिजिटल में अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं।

Last Modified:
Tuesday, 10 May, 2022
Nirmala Bohra

युवा पत्रकार निर्मला बोहरा (नेहा बोहरा) ने जागरण समूह की डिजिटल कंपनी 'जागरण न्यू मीडिया' (Jagran New Media) से पत्रकारिता में अपने नए सफर की शुरुआत की है। उन्होंने देहरादून में बतौर चीफ सब एडिटर जॉइन किया है।

इस नई भूमिका को संभालने से पहले निर्मला देहरादून में ही करीब साढ़े नौ साल से ‘अमर उजाला’ डिजिटल में अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं। इसके अलावा पूर्व में वह करीब दो साल ‘जागरण‘ समूह के बाइलिंगुअल अखबार आईनेक्स्ट(Inext) में भी अपनी भूमिका निभा चुकी हैं। यहीं से उन्होंने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत भी की थी।  

मूल रूप से हलद्वानी की रहने वाली निर्मला बोहरा को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब 11 साल का अनुभव है। पढ़ाई-लिखाई की बात करें तो उन्होंने खटीमा (ऊधमसिंह नगर) से ग्रेजुएशन किया है। इसके अलावा देहरादून की ओपन यूनिवर्सिटी से पत्रकरिता में मास कम्युनिकेशन की डिग्री ली है।

समाचार4मीडिया की ओर से निर्मला बोहरा को उनके नए सफर के लिए ढेरों बधाई और शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

इस मीडिया समूह से जुड़े युवा पत्रकार गीतार्जुन गौतम

गीतार्जुन गौतम ने पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत 'ईटीवी' हैदराबाद से की थी।

Last Modified:
Saturday, 07 May, 2022
Geetarjun Gautam

युवा पत्रकार गीतार्जुन गौतम ने जागरण समूह की डिजिटल कंपनी 'जागरण न्यू मीडिया' (Jagran New Media) से पत्रकारिता में अपनी नई पारी शुरू की है। उन्होंने नोएडा में बतौर सीनियर सब एडिटर जॉइन किया है।

गीतार्जुन को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब पांच साल का अनुभव है। पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत उन्होंने 'ईटीवी' हैदराबाद से की थी। 'जागरण न्यू मीडिया' को जॉइन करने से पहले वह करीब पौने तीन साल वाराणसी में ‘अमर उजाला (डिजिटल) में भी अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं।

मूल रूप से बदायूं (उत्तर प्रदेश) के रहने वाले गीतार्जुन ने हरियाणा के हिसार में स्थित गुरु जंभेश्वर यूनिवर्सिटी से पत्रकारिता में ग्रेजुएशन किया है। समाचार4मीडिया की ओर से गीतार्जुन गौतम को उनके नए सफर के लिए ढेरों बधाई और शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

अब इस मीडिया समूह की कश्ती में सवार हुईं युवा पत्रकार नीलम राजपूत

नीलम राजपूत इससे पहले करीब ढाई साल से जागरण समूह की डिजिटल कंपनी 'जागरण न्यू मीडिया' (Jagran New Media) के नोएडा स्थित ऑफिस में अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं।

Last Modified:
Friday, 06 May, 2022
Neelam Rajput

युवा पत्रकार नीलम राजपूत ने ‘इंडियन एक्सप्रेस’ समूह के हिंदी न्यूज पोर्टल ‘जनसत्ता.कॉम’(jansatta.com) के साथ पत्रकारिता में अपने करियर की नई शुरुआत की है। हाल ही में उन्होंने यहां पर बतौर सीनियर सब एडिटर जॉइन किया है।

नीलम राजपूत इससे पहले करीब ढाई साल से जागरण समूह की डिजिटल कंपनी 'जागरण न्यू मीडिया' (Jagran New Media) के नोएडा स्थित ऑफिस में अपनी जिम्मेदारी निभा रही थीं।

मूल रूप से हरिद्वार की रहने वाली नीलम राजपूत को पत्रकारिता के क्षेत्र में काम करने का करीब आठ साल का अनुभव है। पत्रकारिता में अपने करियर की शुरुआत उन्होंने ‘कोबरा पोस्ट’ से की थी। इसके बाद ‘इंडिया संवाद’, ‘देश 24*7’  में भी उन्होंने अपनी जिम्मेदारी निभाई और ‘जागरण न्यू मीडिया’ होती हुईं अब ‘इंडियन एक्सप्रेस’ समूह में पहुंची हैं।

पढ़ाई लिखाई की बात करें तो नीलम ने उत्तराखंड की हेमवती नंदन बहुगुणा  (HNB) गढ़वाल यूनिवर्सिटी से बीएससी की है। इसके अलावा उन्होंने दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया से टीवी जर्नलिज्म में पीजी डिप्लोमा किया है।

समाचार4मीडिया की ओर से नीलम राजपूत को उनके नए सफर के लिए ढेरों बधाई और शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

‘टाइम्स नाउ नवभारत’ को अलविदा कह नए सफर पर निकले पत्रकार रोशन कुमार

पत्रकार रोशन कुमार ने ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ से इस्तीफा दे दिया है। यहां वह करीब दस महीने से बतौर स्टूडियो डायरेक्टर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे।

Last Modified:
Monday, 02 May, 2022
Roshan Kumar

पत्रकार रोशन कुमार ने ‘टाइम्स नाउ नवभारत’ से इस्तीफा दे दिया है। यहां वह करीब दस महीने से बतौर स्टूडियो डायरेक्टर अपनी जिम्मेदारी निभा रहे थे। रोशन कुमार ने पत्रकारिता में अपने नए सफर की शुरुआत अब ‘टीवी9 डिजिटल’ के साथ की है। यहां वह डिजिटल प्लेटफॉर्म पर मौजूद सभी चैनल्स जैसे-‘टीवी9 हिंदी’, ‘मनी9’ और ‘न्यूज9’ में अपनी भूमिका निभाएंगे।   

मूल रूप से आरा (बिहार) के रहने वाले रोशन कुमार करीब दो दशक से मीडिया में सक्रिय हैं। इससे पहले वह ‘BTVI’, ‘जी न्यूज’, ‘एबीपी न्यूज’, ‘न्यूज नेशन’ और ‘एस1’ चैनल में अपनी जिम्मेदारी निभा चुके हैं। उन्होंने ‘IBN9’ नाम से एक डिजिटल चैनल की शुरुआत भी की थी।   

रोशन कुमार ने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 2001 में ‘सहारा समय’ के साथ की थी। इसके बाद विभिन्न मीडिया संस्थानों में अपनी भूमिका निभाते हुए वह अब ‘टीवी9’ पहुंचे हैं।

समाचार4मीडिया से बातचीत में रोशन कुमार का कहना है, ‘टीवी9 डिजिटल की उत्साही टीम से जुड़कर मुझे बहुत खुशी हो रही है। यह पहले से ही अच्छी तरह स्थापित है और मैं दीर्घकालिक लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए टीम के साथ सहयोग करने को लेकर तत्पर हूं।’

समाचार4मीडिया की ओर से रोशन कुमार को उनके नए सफर के लिए ढेरों शुभकामनाएं।

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए

डिजिटल पर जिले स्तर की खबरों को प्राथमिकता देगा नेटवर्क18

ई4एम न्यूजनेक्स्ट वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के दौरान ’नेटवर्क18 ’ के सीईओ और ’हिस्ट्री ’ व ’टीवी18 ’ एमडी अविनाश कौल ने कहा कि यह डिजिटल चैनल स्थानीय जिला समाचारों को एक केंद्र पर लेकर आएगा।

Last Modified:
Monday, 02 May, 2022
Network18

देश का प्रतिष्ठित मीडिया समूह ‘नेटवर्क18’ (Network 18) ‘लोकल18’ (Local18) के तहत डिजिटल पर जिले स्तर की खबरों को बढ़ावा देगा। ’ई4एम न्यूजनेक्स्ट’ (e4m NewsNext) वर्चुअल कॉन्फ्रेंस के दौरान ’नेटवर्क18 ’ के सीईओ और ’हिस्ट्री ’ व ’टीवी18 ’ के मैनेजिंग डायरेक्टर अविनाश कौल ने कहा कि इसके तहत स्थानीय जिला समाचारों को एक केंद्र पर लाया जाएगा।

‘ट्रस्ट लीगल’ (Trustlegal) के मैनेजिंग पार्टनर सुधीर मिश्रा के साथ बातचीत के दौरान कौल ने कहा, ‘हमारे पास 15 भाषाओं में लगभग हर राज्य में 21 न्यूज चैनल्स के साथ सबसे बड़ा न्यूज नेटवर्क है। अब हम लोकल18 को लेकर डिजिटल पर काम कर रहे हैं। यह विशुद्ध रूप से हाइपर लोकल है, जहां पर आपको एक जगह पर प्रत्येक जिले की खबरें मिलेंगी।’

कौल के अनुसार, ’भारत में 739 जिले हैं और ऐसा कोई कारण नहीं है कि सभी को इस बात को जानने की रुचि है कि राष्ट्रीय स्तर पर क्या हो रहा है। यदि हिंदी न्यूज चैनल्स की ही बात करें तो अधिकांश को इस बात से कोई फर्क नहीं पड़ता कि पश्चिमी देशों में क्या हो रहा है। इसके लिए या तो अंग्रेजी न्यूज चैनल्स या अंतरराष्ट्रीय न्यूज चैनल्स की भूमिका मानी जाती है।’

उन्होंने कहा कि ज्यादातर लोग तो यह जानना चाहते हैं कि उनके जिलास्तर पर क्या चल रहा है। कौल ने कहा, ‘मुझे लगता है कि हमारे लिए यह सबसे अच्छा है कि हम उन्हें बताएं कि जिला स्तर पर उनके यहां कौन से मुद्दा या खबर खास है। लोकल18 पर आपको जमीनी पत्रकारिता का कल्चर दिखता है। इसमें आपको जिला स्तर के मुद्दों और वहां के विकास कार्यों को जानने का मौका मिलता है।’

समाचार4मीडिया की नवीनतम खबरें अब आपको हमारे नए वॉट्सऐप नंबर (9958894163) से मिलेंगी। हमारी इस सेवा को सुचारु रूप से जारी रखने के लिए इस नंबर को आप अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट में सेव करें।
न्यूजलेटर पाने के लिए यहां सब्सक्राइब कीजिए