वरिष्ठ पत्रकार


इस देश ने सदियों से दो गुटों की झड़प देखी थी। दो सम्प्रदायों में तनाव होता था। लड़ाई के देश के सामने प्रोजेक्शन में भी ‘फेयर एनफ़’ वाली सिचुएशन थी।

प्रमिला दीक्षित 2 months ago

लड़की हूं, लड़ सकती हूं, इसके लिए बैकअप चाहिए होता है। बिना बैकअप लड़कियां बस लड़ने के लिए कूद नहीं सकतीं। बस वही बैकअप जहां मिलता दिख रहा है, वो उनको चुन रही हैं।

प्रमिला दीक्षित 2 months ago

ट्रंप अहमदाबाद में थे और हर चैनल ट्रंप के पीछे। सुबह से दोपहर तक ट्रंप और मेलानिया के व्यवहार और बॉडी लैंग्वेज पर चैनल ऐसे बहस कर रहे थे, जैसे उन्नाव वाली चाची और फूफा पर

प्रमिला दीक्षित 2 years ago

देश के सबसे तेज चैनल की एंकर अंजना ओम कश्यप जब शाहीन बाग पहुंचीं तो शाहीन बाग ने आंचल खोलकर उनका स्वागत किया।

प्रमिला दीक्षित 2 years ago

वैसे तो हिंदुस्तान की परम्परा है कि बच्चे लड़ रहे हों तो बड़े बीच में नही पड़ते

प्रमिला दीक्षित 2 years ago

फिल्म की तर्ज पर देश के हालात भी कुछ ऐसे ही हो गए हैं। लोग तौबा कर रहे हैं,खासतौर पर पत्रकार

प्रमिला दीक्षित 2 years ago

दही ही दिखाओ और दही ही परोसो, रायता मत बनाओ। लेकिन ‘द शो मस्ट गो ऑन’ को ध्येय मानने वाले अब छन्नी से अयोध्या छान रहे हैं

प्रमिला दीक्षित 2 years ago

भ्रष्टाचार के मामले में इस तरह की गिरफ्तारी मुझे साल 2001 में करुणानिधि की याद दिलाती है

प्रमिला दीक्षित 2 years ago