Share this Post:
Font Size   16

अब नए कलेवर के साथ तैयार है 'स्टार प्लस', जल्द लाएगा ये नए शो...

Published At: Thursday, 31 May, 2018 Last Modified: Tuesday, 29 May, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

हिंदी एंटरटेनमेंट चैनल स्टार प्लस अब अपने नए कलेवर के साथ नजर आ रहा है। आईपीएल के अंतिम मैच से ठीक पहले यानी रविवार को चैनल ने अपना नया लोगो और नई टैगलइन रिश्ता वही बात नईजारी किया। चैनल का चेहरा अब युवा आइकन आलिया भट्ट हैं।

बता दें कि स्टार प्लस का नया लोगो अब लाल और गोल्डन रंग का है। वहीं चैनल के सिग्नेचर ट्यून को ऑस्कर विजेता ए.आर. रहमान ने तैयार किया है, जबकि सुनिधि चौहान और चांदनी आरएमडब्ल्यू के गाए गीत को गीतकार स्वानंद किरकिरे ने लिखा है और राम संपत ने धुनों से सजाया है। गाने में आलिया चैनल की नई दुनिया में इसके शो के विभिन्न किरदारों के साथ नजर आती हैं।

आलिया ने एक बयान में कहा, ‘मुझे इस बात ने चैनल से जुड़ने के लिए प्रेरित किया कि ब्रैंड और मैं जो साझा करती हूं, उसमें काफी समानताएं हैं। हम दोनों अपने परिवारों, दोस्तों और रिश्तों को काफी अहमियत देते हैं और उनकी अहमयित को समझते हैं।

बदलाव की इस कड़ी में स्टार प्लस जल्द ही कुछ नए शोज भी लॉन्च करने वाला है, जिसमें सबसे स्मार्ट कौन’, ‘कयामत की रात’, और दिल है हिन्दुस्तान सीजन- 2 शामिल है।

स्टार इंडिया मैनेजिंग डायरेक्टर संजय गुप्ता ने कहा, ‘हम एक बार फिर से युवा और महत्वाकांक्षी भारत के लिए मनोरंजन की एक नई दुनिया बना रहे हैं, जिसमें कई किरदार होंगे, अलग कहानियां होंगी, जो समाज में एक नई चेतना, बात को उभारेगा।   

उन्होंने कहा कि समान भावना को बरकरार रखते हुए चैनल ने अपने ब्रैंड के प्रचार के चेहरे के रूप में बेहद प्रतिभावान देश के युवाओं की आदर्श आलिया भट्ट को अनुबंधित किया है।

यहां देखें चैनल का नया प्रोमो-

 


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 

Tags telescope


पोल

मीडिया-एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री से लगातार आ रही #MeToo खबरों पर क्या है आपका मानना

जिसने जैसा किया है, वो वैसा भुगत रहा है

कई मामले फेक लग रहे हैं, ऐसे में इंडस्ट्री को कुछ ठोस कदम उठाना चाहिए

दोषियों को बख्शा न जाए, पर गलत मामला पाए जाने पर 'कथित' पीड़ित भी नपे

Copyright © 2018 samachar4media.com