तमाम विवादों के बीच NDTV के शेयरों में भारी उछाल... तमाम विवादों के बीच NDTV के शेयरों में भारी उछाल...

तमाम विवादों के बीच NDTV के शेयरों में भारी उछाल...

Friday, 08 September, 2017

समाचार4मी‍डिया ब्यूरो ।।

टेलिविजन मीडिया कंपनी नई दिल्‍ली टेलिविजन लिमिटेड’ (NDTV) के शेयरों ने अपर सर्किट (upper circuit) को छूते हुए 20 प्रतिशत की छलांग लगाई है। यदि पिछले तीन कारोबारी सत्र को देखा जाए तो कुल मिलाकर इसमें 60 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी हुई है।

दरअसल, पिछले बृहस्‍पतिवार को एनडीटीवी के शेयर 35.45 रुपये पर बंद हुए थे और करीब 60 प्रतिशत इजाफे के बाद इस गुरुवार को को 66.1 रुपये तक पहुंचा। हालांकि अभी यह पता नहीं चल सका है कि इस बढ़ोतरी के पीछे असल कारण क्‍या है। पर चर्चा है कि इसके पीछे कहीं न कहीं चैनल के स्वामित्व में शायद कोई परिवर्तन हो सकता है।

गौरतलब है कि इससे पहले दिल्‍ली हाई कोर्ट ने आयकर अपीलीय ट्रिब्‍यूनल के उस फैसले को बरकरार रखा था जिसमें कहा गया था कि प्रनॉय रॉय और उनकी पत्‍नी राधिका रॉय द्वारा संचालित न्‍यूज मीडिया कंपनी टीवी न्यूज सॉफ्टवेयर के निर्यात पर आयकर कटौती की हकदार हैं।

इससे पहले एक मीडिया एजेंसी के हवाले से खबर दी गई थी कि एनडीटीवी ने वर्ष 1999-2000 तक स्टार टीवीको समाचार प्रोग्रामिंग के निर्यात से आयकर की कटौती की मांग की थी। इसके अलावा एक और अखबार ने खबर दी थी कि भारतीय पूंजी बाजार नियामक ‘Securities and Exchange Board of India’ (SEBI) ने गुरुग्राम की कंपनी विश्‍वप्रधान कॉमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड’ (VCPL) को कारण बताओ नोटिस जारी किया था। क्‍योंकि उसने एनडीटीवी में प्रमोटर होल्डिंग के नियंत्रण को लेकर खुलासा नहीं किया था। यह नोटिस भी दिसंबर में जारी किया गया था।

नाम न छापने की शर्त पर एक ब्रोकर का कहना है कि  यदि एनडीटीवी के नियंत्रण में बदलाव को लेकर सेबी कोई कदम उठाता है तो कम शेयर वालों को लाभ हो सकता है।

गौरतलब है कि इस साल के शुरुआत में सीबीआई ने करोड़ों रुपये के बैंक लोन के मामले में एनडीटीवी ग्रुप के प्रमोटर प्रनॉय रॉय और राधिका रॉय के विभिन्न ठिकानों पर छापे मारे थे।  

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, एनडीटीवी के नियंत्रण को लेकर सेबी के निशाने पर आई गुरुग्राम की कंपनी ‘VCPL’ ने रॉय और एनडीटीवी की होल्डिंग कंपनी आरआपीआर होल्डिंग्‍सको 350 करोड़ रुपये का ब्‍याज रहित लोन दिया था। रॉय ने इस रुकम को बैंक का पूरा लोन चुकाने में इस्‍तेमाल कर लिया था। इसके बदले में रॉय को वीसीपीएल को परिवर्तिनीय वारंट जारी करने थे, जिसमें इन डिवेंचर्स को इक्विटी शेयर्स में बदलने का विकल्‍प था। यह आरआरपीआर होल्डिंग्स की 99.99% इक्विटी शेयर पूंजी थी, जिसकी एनडीटीवी लिमिटेड में 29.18% हिस्सेदारी है।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



Copyright © 2017 samachar4media.com