Share this Post:
Font Size   16

सहारा मीडिया में फिर हुई उपेन्द्र राय की वापसी, मिली बड़ी जिम्मेदारी

Thursday, 05 November, 2015

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।। कर्मचारियों के विरोध प्रदर्शन और आर्थिक तंगी से जूझ रहे सहारा इंडिया न्यूज नेटवर्क को संकट से उबारने के लिए एक बार फिर उपेन्द्र राय को लाया गया है। उन्हें इस बार ग्रुप के सीईओ व एडिटर-इन-चीफ की जिम्मेदारी दी गई है। बता दें कि सहारा मीडिया में ये उनकी तीसरी पारी होगी। एक्सचेंज4मीडिया से बात करते हुए उन्होंने बताया, ‘एक बार फिर सहारा न्यूज में वापस लौटने पर खुश हूं। सहारा के साथ यह मेरी तीसरी पारी है। मैनें अपने करियर की शुरुआत भी इसी आर्गेनाइजेशन के साथ की। फिर से ग्रुप सीईओ और एडिटर-इन-चीफ बनकर बेहद खुश हूं। यह मेरी लिए नई चुनौती है और निश्चित ही मैं सब सही कर दूंगा।’ बता दें राय इससे पहले बिजनेस वर्ल्ड मैगजीन के साथ जुड़े हुए थे, वे यहां मैगजीन के ग्रुप एडिटोरियल एडवाइजर थे। राय ने अपने करियर की शुरुआत 1 जून, 2000 को लखनऊ में राष्ट्रीय सहारा से की। उन्होंने यहां विभिन्न पदों पर काम किया और वे यहां सबसे कम उम्र के ब्यूरो चीफ बनकर मुंबई पहुंचे। इसके बाद वे साल 2002 में स्टार न्यूज की लॉन्चिंग टीम का हिस्सा बन गए और दो साल से भी कम समय में वरिष्ठ संवाददाता बनने का मौका मिला। वहीं से सीएनबीसी टीवी18 में 10 अक्टूबर, 2004 को प्रमुख संवाददाता के रूप में जॉइन किया। बतौर विशेष संवाददाता अक्टूबर 2005 में स्टार न्यूज (अब एबीपी न्यूज) में वापसी की और दो वर्षो के अंदर एक और पदोन्नति मिली और चैनल में सबसे युवा असोसिएट एडिटर बन गए। फिर जनवरी, 2010 से दिसंबर, 2014 तक सहारा इंडिया न्यूज नेटवर्क में एडिटर और न्यूज डायरेक्टर की जिम्मेदारी संभाली। साथ ही वे इस दौरान प्रिंटर और पब्लिसर की भूमिका में भी रहे।

 

 

समाचार4मीडिया देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया.कॉम में हम आपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Tags media


पोल

क्या इंडिया टीवी के चेयरमैन रजत शर्मा का क्रिकेट की दुनिया में जाना सही है?

हां, उम्मीद है कि वे वहां भी उल्लेखनीय कार्य कर सुधार करेंगे

नहीं, जिसका काम उसी को साजे। उनका कर्मक्षेत्र मीडिया ही है

बड़े लोगों की बातें, बड़े ही जाने, हम तो सिर्फ चुप्पी साधे

Copyright © 2018 samachar4media.com