MIB ने इन 10 नए टीवी चैनलों को दिए लाइसेंस...

Saturday, 09 September, 2017

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय (MIB)  ने 10 नए टीवी चैनलों के लाइसेंस को मंजूरी प्रदान की है। ये मंजूरी 10 अगस्‍त से पांच सितंबर के बीच दी गई है। इनमें से 9 लाइसेंस अगस्‍त में जबकि एक सितंबर में जारी किया गया है। टीवी शॉपिंग और ई-कॉमर्स कंपनी नापतौल’ (Naaptol) से जुड़ी कंपनी ‘Cinema 24×7’ को नॉन न्‍यूज श्रेणी में सात अपलिंकिंग लाइसेंस मिले हैं। जबकि म्‍यूजिक चैनल कंपनी मीडिया वर्ल्‍डवाइड’ (Media Worldwide) को बांग्‍ला टॉकीज’ (Bangla Talkies) के लिए नॉन न्‍यूज श्रेणी में एक अपलिंकिंग लाइसेंस दिया गया है। चेन्‍न्‍ई मुरासु’ (Chennai Murasu) को ‘Malai Murasu Seithikal’ के लिए न्‍यूज श्रेणी में एक अपलिंकिंग लाइसेंस हासिल हुआ है। यह कंपनी तमिल अखबार डेली थांती’ (Daily Thanthi) और मलाई मुरासु’ (Malai Murasu) प्रकाशित करने वाले मीडिया ग्रुप का हिस्‍सा है। इसके अलावा यह ग्रुप थांती टीवी’ (Thanthi TV) और मलाई मुरासु टीवी’ (Malai Murasu TV) नाम के टीवी चैनलों का संचालन भी करता है।

वहीं, भोपाल के असनानी बिल्‍डर और डेवलपर को आनंदी टीवी’ (Anaadi TV) के लिए अपलिंकिंग लाइसेंस हासिल हुआ है। यह लाइसेंस इसे न्‍यूज कैटेगरी में मिला है।

गौरतलब है कि मंत्रालय द्वारा अब तक 881 टीवी चैनलों को लाइसेंस दिए जा चुके हैं। इनमें 387 न्‍यूज चैनल और 494 नॉन न्‍यूज चैनल शामिल हैं। जुलाई में एमआईबी ने नौ टीवी चैनलों के लाइसेंस दिए थे, जिनमें वायकॉम 18’ (Viacom18) के दो लाइसेंस शामिल थे।

डिश टीवी’ (Dish TV) के पूर्व सीईओ आरसी वेंकटेश इन दिनों ‘Lex Sportel Vision’ कंपनी में डायरेक्‍टर हैं। इस कंपनी को एटीआर’ (ATR) के नाम से अंग्रेजी और हिन्‍दी भाषा में नॉन न्‍यूज कैटेगरी में अपलिंकिंग का लाइसेंस मिला है। वहीं, तेलुगू न्‍यूज चैनल ‘V6के स्‍वामित्‍व वाली कंपनी वीआईएल मीडिया’ (VIL Media) को वी6 ऐंटरटेनमेंट’ (V6 Ent) के नाम से नॉन न्‍यूज चैनल का लाइसेंस मिला है।

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



पोल

गौरी लंकेश की हत्या के बाद आयोजित विरोधसभा के मंच पर नेताओ का आना क्या ठीक है?

हां

नहीं

पता नहीं

Copyright © 2017 samachar4media.com