Share this Post:
Font Size   16

पत्रकार-पुत्र को अज्ञात वाहन ने कुचला, हमले की आशंका...

Friday, 08 June, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

पूरे देश में अलग-अलग स्थानों पर आए दिन पत्रकारों पर हमले हो रहे हैं। खबरों से बौखलाए अपराधी मुख्यालय से लेकर जनपदोंतहसील स्तर के पत्रकारों को अब सीधे अपना निशाना बना रहे हैं। मध्य प्रदेश का होशंगाबाद फिर एक बार इसका गवाह बना हैजहां ऑफिस से मंगलवार देर रात अपने घर जा रहे पत्रकार व उनके 9वर्षीय पुत्र की गाड़ी से कुचलकर हत्या करने का प्रयास किया गया।

राजधानी भोपाल से 70 कि.मी. दूर होशंगाबाद जनपद में न्यूज एजेंसी एक्सप्रेस मीडिया सर्विस (दैनिक एक्सप्रेस न्यूज) के जिला ब्यूरो इंचार्ज राजीव अग्रवाल (42वर्ष) बुधवार देर रात करीब एक बजे पोस्ट ऑफिस के पास स्थित अपने दफ्तर से घर जाने के लिए निकले थेउनके साथ उनका पुत्र विनायाक अग्रवाल (9वर्ष) भी था जो जबलपुर से स्कूलों की छुट्टियां व्यतीत करने अपने पिता के पास आया था। पिता-पुत्र मोटर साइकिल से घर जा रहे थेइसी दौरान सदर बाजार मीनाक्षी चौक के पास एक सफेद रंग की बड़ी कार इनको साइड से कुचलते हुए निकल गई। राजीव ने बेहोश होने से पहले घटना की जानकारी अपने मोबाइल से पुलिस दे दी थी, जिसके बाद पत्रकार व उनके पुत्र को निजी अस्पताल नर्मदा में इलाज के लिए भर्ती कराया गया।

मिली जानकारी के मुताबिक राजीव के सिरभौहोंहोंठबाएं हाथ में फ्रैक्चरपसलियों में गंभीर चोटें के साथ कमर व दोनो पैर इंजर्ड हुए हैं। वहीं उनके बेटे को भी गंभीर चोंटे आईं है जिसके चलते उसे चिकित्सकों ने आईसीयू में शिफ्ट कर रखा है।

बताते चलें की राजीव एमपी वर्किंग जर्नलिस्ट्स यूनियन के नर्मंदांचल संभाग के प्रांतीय अध्यक्ष है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक अरविंद सक्सेना ने अस्पताल पहुंचकर राजीव से मुलाकात कर घटना के बारें में जानकारी लेकर अज्ञात वाहन के विरुद्ध मुकदमा दर्ज घटना के सभी पहलुओं पर पड़ताल शुरू करने के लिए मातहतों को निर्देश देते हुए पत्रकारों को जल्द कार्रवाई का भरोसा दिलाया है।

राजीव की सहयोगी पत्रकार सीमा कैथवास ने बताया कि ये हमला है इसको दुर्घटना से जोड़कर नहीं देखा जाना चाहिए। वहीं चिकित्सकों ने पत्रकार को खतरे से बाहर बताया है जबकि बेटे की हालत चिंताजनक बताई है। घटना को लेकर होशंगाबाद व इटारसी के पत्रकारों ने मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन प्रशासन को सौंपकर घटना की निष्पक्ष जांच कर पत्रकार को चिकित्सीय व वित्तीय सहायता देने की मांग की है। एमपी वर्किंग जर्नलिस्ट्स यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष राधावल्लभ शारदा ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि पीड़ित पत्रकार की हर संभव मदद की जाएगी और इस मामले में पत्रकार संगठन मुख्यमंत्री से मुलाकात कर अपनी बात रखेंगे।

घटना के पीछे हो सकते हैं ये कारण-

1- राजीव ने नर्मदा नदी में अवैध खनन से जुड़ी खबरों की एक पूरी सीरीज लगातार चला रहे थे जिसके बाद से प्रशासन हरकत में आया था खनन माफियाओं की जेसीबीपोकलैंड मशीने सीज कर दी गईं थी।

2- अभी हाल में ही एक बैंक मैनेजर द्वारा बिल्डर्स को नियमों को ताक पर रखते हुए लोन पास किए गए थे जिसकी खबर राजीव ने ब्रेक की थीजिस पर बैंक मैनेजर पर कार्रवाई तय मानी जा रही थी वो भी घटना का एक पहलू हो सकता है ये बिंदु पुलिस और पत्रकारों के बीच घटना के पीछे चर्चा का विषय बने थे। 

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।  

 

Tags mediaforum


Copyright © 2018 samachar4media.com