Share this Post:
Font Size   16

‘IBF’ की वार्षिक बैठक नजदीक आते ही शुरू हुईं इस तरह की अटकलें

Wednesday, 13 September, 2017

समाचार4मी‍डिया ब्यूरो ।।

इंडियन ब्रॉडकास्टिंग फाउंडेशन (IBF)  के सदस्‍यों की 18वीं वार्षिक आम बैठक (AGM) शुक्रवार को होगी। इस बैठक के नजदीक आते ही इसके नए प्रेजिडेंट और बोर्ड मेंबर्स के चुनाव को लेकर अटकलें तेज हो गई हैं।

वर्ष 2016 में जी ऐंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज’ (ZEE) के मैनेजिंग डायरेक्‍टर पुनीत गोयनका को आईबीएफका प्रेजिडेंट चुना गया था। इसके अलावारजत शर्मा (चेयरमैन- इंडिया टीवी)एनपी सिंह (सीईओ- सोनी पिक्चर्स नेटवर्क),  सुधांशु वत्स (ग्रुप सीईओ- वायकॉम18)के. माधवन (मैनेजिंग डायरेक्टर- एशियानेट कम्युनिकेशंस) को वाइस प्रेजिडेंट चुना गया था। वहीं केवीएल  नारायण राव (एग्जिक्यूटिव वाइस चेयरमैन- एनडीटीवी) को एक साल के लिए आईबीएफ का कोषाध्‍यक्ष बनाया गया था।

इस बार 18वीं जनरल मी‍टिंग में बोर्ड मेंबर्स में से बोर्ड ऑफ डायरेक्‍टर्स का चुनाव भी किया जाएगा। इनका चुनाव उन बोर्ड ऑफ डायरेक्‍टर्स की जगह पर किया जाएगा जो रोटेशन के आधार पर रिटायर हो रहे हैं। इनमें गोयनका का नाम भी शामिल है, जो रोटेशन के आधार पर रिटायर हो रहे हैं। हालांकि उन्‍होंने व (बांग्‍ला ऐंटरटेनमेंटके एनपी सिंह ने खुद के री-अपाइंटमेंट के लिए अपनी पेशकश की है। वहींइस लिस्‍ट में ‘इनाडु’ (Eenadu) के डायरेक्‍टर आई वेंकट और के. माधवन (मैनेजिंग डायरेक्टर- एशियानेट कम्युनिकेशंस) का नाम भी शामिल है।

इसके अलावा, आईबीएफ सचिवालय को जिन अन्‍य सदस्‍यों से नॉमिनेशंस मिले हैं, उनमें जॉय चक्रवर्ती (टीवी18 ब्रॉडकास्‍ट लिमिटेड), कार्तिकेय शर्मा (इनफॉर्मेशन टीवी प्राइवेट लिमिटेड), विजय राजपूत (डिस्‍कवरी कम्‍युनिकेशंस), महेश सामत (डिज्‍नी इंडिया), एमके आनंद (बेनेट कोलमैन एंड कंपनी लिमिटेड) और पुनीत मिश्रा (जी ऐंटरटेनमेंट) का नाम शामिल है। 

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।

Tags mediaforum


पोल

क्या इंडिया टीवी के चेयरमैन रजत शर्मा का क्रिकेट की दुनिया में जाना सही है?

हां, उम्मीद है कि वे वहां भी उल्लेखनीय कार्य कर सुधार करेंगे

नहीं, जिसका काम उसी को साजे। उनका कर्मक्षेत्र मीडिया ही है

बड़े लोगों की बातें, बड़े ही जाने, हम तो सिर्फ चुप्पी साधे

Copyright © 2018 samachar4media.com