Share this Post:
Font Size   16

वरिष्ठ पत्रकार विनोद अग्निहोत्री को भातृशोक, नहीं रहे बड़े भाई

Published At: Monday, 25 February, 2019 Last Modified: Monday, 25 February, 2019

समाचार4मीडिया ब्यूरो।।

सामाजिक कार्यकर्ता और वरिष्ठ पत्रकार अशोक कुमार अग्निहोत्री का गुरुवार की रात निधन हो गया। करीब तीन माह से फेफड़े की गंभीर बीमारी से पीड़ित अशोक अग्निहोत्री का दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में इलाज चल रहा था, जहां उन्होंने आखिरी सांस ली। शुक्रवार को उनका अंतिम संस्कार किया गया।

अशोक अग्निहोत्री के छोटे भाई विनोद अग्निहोत्री वरिष्ठ पत्रकार हैं और इन दिनों ‘अमर उजाला’ में सलाहकार संपादक के पद पर कार्यरत हैं। अशोक अग्निहोत्री के दो पुत्र अभिषेक और अवनीश भी पत्रकारिता से जुड़े हुए हैं।

मूलरूप से बिल्लौर तहसील के लक्ष्मणपुर मिश्रान निवासी अशोक अग्निहोत्री के बाबा पंडित देवी प्रसाद अग्निहोत्री कल्याणपुर में आकर बस गए थे। अशोक अग्निहोत्री ने कानपुर विश्वविद्यालय से पढ़ाई की थी और काफी समय तक छात्र राजनीति में भी सक्रिय रहे थे। इसके बाद वे पत्रकारिता के क्षेत्र में आए थे।

सत्तर के दशक में उन्होंने एक साप्ताहिक अखबार ‘परिवारवाद’ शुरू किया था, जिसे वे आखिरी वक्त तक निकालते रहे। इसके अलावा वे ‘विश्वामित्र’ अखबार से भी जुड़े रहे थे। जेपी आंदोलन के दौर में वे समाजवादी विचारों से प्रभावित होकर राजनारायण, जनेश्वर मिश्र, बृजभूषण तिवारी, मोहन सिंह और रघु ठाकुर जैसे नेताओं के संपर्क में आए। वे ‘लोकदल’, ‘जनता पार्टी’, ‘जनता दल’, ‘कांग्रेस’ और फिर समाजवादी पार्टी से भी जुड़े रहे।

अशोक अग्निहोत्री सियायत में भी सक्रिय रहे। हालांकि, उनका सियासी जीवन काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा। उन्होंने वर्ष 1984 में कल्याणपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव भी लड़ा। वे लंबे समय तक समाजवादी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिण के सदस्य भी रहे थे।



पोल

पुलवामा में आतंकी हमले के बाद हुई मीडिया रिपोर्टिंग को लेकर क्या है आपका मानना?

कुछ मीडिया संस्थानों ने मनमानी रिपोर्टिंग कर बेवजह तनाव फैलाने का काम किया

ऐसे माहौल में मीडिया की इस तरह की प्रतिक्रिया स्वाभाविक है और यह गलत नहीं है

भारतीय मीडिया ने समझदारी का परिचय दिया और इसकी रिपोर्टिंग एकदम संतुलित थी

Copyright © 2019 samachar4media.com