Share this Post:
Font Size   16

महिला पत्रकार के सामने कर रहा था 'गंदी हरकत', मिली ऐसी सजा...

Published At: Wednesday, 21 November, 2018 Last Modified: Wednesday, 21 November, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो।।

महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सरकार चाहे जितने दावे कर ले, लेकिन सच यही है कि आज भी महिलाएं कहीं पर भी सुरक्षित नहीं हैं। यही नहीं, लोग भी पीड़िता की मदद के लिए आगे नहीं आते हैं। इसी तरह के एक मामले में दिल्ली फिर शर्मसार हुई है और इस बार टीवी चैनल की पत्रकार इस तरह की घटना का शिकार हुई है, जब एक व्यक्ति बगल में खड़ा होकर हस्तमैथुन करने लगा और विरोध करने पर मारपीट पर उतर आया।

बताया जाता है कि बस सवारियों से भरी हुई थी, लेकिन इतनी बड़ी घटना के बाद भी महिला पत्रकार की मदद के लिए कोई भी आगे नहीं आया। इस पर पीड़िता ने खुद ही उस व्यक्ति को सजा देने की ठान ली और चप्पलों से पिटाई करने के बाद उसे पुलिस के हवाले कर दिया।

दरअसल, 26 वर्षीय इस पत्रकार ने मंगलवार की रात करीब सवा नौ बजे घर जाने के लिए कापसहेड़ा से संगम विहार के लिए 517 नंबर बस पकड़ी थी। पुलिस में दर्ज एफआईआर में पीड़िता ने बताया है कि बस सवारियों से भरी हुई थी। वह अपनी सीट पर जाकर बैठ गई। रात करीब 9.15 बजे एक व्यक्ति पास में आकर खड़ा हो गया और घूरने लगा। उसे ऐसा करते देख पत्रकार भी उसे गुस्से में घूरने लगी। इस पर थोड़ी देर बाद ही उस व्यक्ति ने हस्तमैथुन शुरू कर दिया।

विरोध करने पर उसने पत्रकार का हाथ पकड़ लिया और धक्का दे दिया। इसके बाद पीड़िता ने पीसीआर को कॉल करने के साथ ही चप्पल निकालकर आरोपी की पिटाई कर दी। पीड़िता ने बताया कि पूरी बस में केवल एक यात्री उसकी मदद के लिए आया था लेकिन उसने भी बाद में गवाह बनने से इनकार कर दिया। बस के अंधेरिया मोड़ पहुंचते-पहुंचते पीसीआर भी मौके पर पहुंच गई और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी की पहचान मुकेश रंजन कुमार के रूप में हुई है। वह एक टेंट ऑपरेटर का काम करता है।

गौरतलब है कि इस साल फरवरी में भी ऐसी ही एक घटना हुई थी, जिसमें एक व्यक्ति ने चलती बस में दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा के साथ अश्लीलता की थी। पीड़िता ने हिम्मत दिखाते हुए उसका विडियो बना लिया था।



पोल

सोशल मीडिया पर पत्रकारों को निशाना बनाया जा रहा है, क्या है आपका मानना?

पत्रकार भी दूध के धुले नहीं हैं, उनकी भी जवाबदेही होनी चाहिए

ये पेड आईटी सेल द्वारा पत्रकारिता को बदनाम करने की साजिश है

Copyright © 2019 samachar4media.com