Share this Post:
Font Size   16

हिंदी पत्रकारिता को झटका, नहीं रहे वरिष्ठ पत्रकार राजकिशोर

Monday, 04 June, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

हिंदी के वरिष्ठ लेखक और पत्रकार राजकिशोर का सोमवार सुबह निधन हो गया। 71 वर्षीय राजकिशोर पिछले कई दिनों से फेफड़ों में संक्रमण की बीमारी से जूझ रहे थे। लेकिन पिछले करीब 20 दिनों से उन्हें सांस लेने में भी दिक्कत होने लगी थी, जिसके बाद उन्हें एम्स के आईसीयू में भर्ती कराया गया था, जहां सोमवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। वैसे वरिष्ठ पत्रकार राजकिशोर का अंतिम संस्कार सोमवार को दोपहर तीन बजे निगम बोध घाट पर किया जाना था, लेकिन देरी के चलते यह कार्यक्रम शाम पांच बजे के बाद किया गया। 

करीब दो महीने पहले ही उनके 40 वर्षीय बेटे विवेक का ब्रेन हैम्रेज से निधन हो गया था। करीबियों के मुताबिक, बेटे की मौत का उन्हें गहरा सदमा लगा था। उनके परिवार में अब उनकी पत्नी और बेटी हैं।

राजकिशोर का जन्म 02 जनवरी 1947 को पश्चिम बंगाल के कोलकाता में हुआ था। उन्होंने 80 के दशक में कोलकाता से शुरू चर्चित साप्ताहिक पत्र रविवारसे अपनी पत्रकारिता करियर की शुरुआत की और इसके बाद कुछ समय तक उन्होंने वहीं से प्रकाशित परिवर्तन नामक पत्रिका में भी काम किया। फिर उन्होंने नई दिल्ली से प्रकाशित नवभारत टाइम्समें सहायक संपादक की भूमिका निभाई। उन्होंने लंबे समय तक नवभारत टाइम्स के साथ का किया। इसके अलावा राजकिशोर ने प्रभाष जोशी के साथ जनसत्ता अखबार में भी काम किया। उन्होंने दूसरा शनिवारमैगनीज का संपादन भी किया था। वे कई अखबारों में समसामयिक विषयों स्तम्भ भी लिखते रहे और पत्रकारिता में अपनी विशिष्ट पहचान बनाई।

राजकिशोर अपने वैचारिक लेखन के लिए जाने जाते हैं। 'तुम्हारा सुख' और 'सुनंदा की डायरी' जैसे उनके उपन्यास के अलावा 'पाप के दिन' शीर्षक से उनकी कविता संग्रह और व्यंग्य संग्रह राजा का बाजाकाफी प्रसिद्ध रही हैं। पत्रकारिता और साहित्य में उनके योगदान के लिए उन्हें लोहिया पुरस्कार के अलावा हिंदी अकादमी की तरफ से साहित्यकार सम्मान से भी नवाजा जा चुका है। 



समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 

 



Copyright © 2018 samachar4media.com