Share this Post:
Font Size   16

रेप के आरोप में फंसे दाती महाराज, खुद का भी है चैनल-वेबसाइट

Tuesday, 12 June, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

हिंदी न्यूज चैनलों पर राशिफल और ज्योतिष से जुड़े कार्यक्रमों में अकसर नजर आने वाले मशहूर शनिधाम मंदिर के संस्थापक दाती महाराज अब दुष्कर्म के आरोपों में घिर गए हैं। उनकी एक शिष्या ने उन पर यौन शौषण के आरोप लगाए हैं। पिछले दिनों पीड़िता ने दिल्ली पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके बाद पुलिस ने इसकी जांच पड़ताल की और फिर सोमवार को दुष्कर्म और यौन शोषण से जुड़ी धाराओं में केस दर्ज किया।

पुलिस ने बताया कि लड़की की शिकायत पर दाती महाराज के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 354, 376 और 377 के तहत केस दर्ज कर लिया गया है। लड़की ने अपनी शिकायत में कहा है कि दो साल पहले दाती महाराज ने उसके साथ मंदिर के अंदर ही रेप की वारदात को अंजाम दिया था। पीड़िता ने यह भी कहा है कि समाज में बदनामी और डर की वजह से उसने पहले शिकायत नहीं की। उसने बताया कि रेप करने के बाद दाती महाराज ने उसे यह बात किसी को न बताने की धमकी भी दी थी।  

पीड़िता ने अपनी शिकायत में कहा है कि वह नियमित तौर पर दाती महाराज के उपदेशों को सुनने के लिए उनके आश्रम जाती रहती थी। पीड़िता के मुताबिक, दाती महाराज के एक सहयोगी ने उसे दाती महाराज से सीधे मुलाकात करने के बारे में पूछा था। पीड़िता का आरोप है कि दाती महाराज के आश्रम में उसका लगातार यौन शोषण किया गया। इतना ही नहीं उसे मानसिक रूप से भी प्रताड़ित किया गया और किसी को इसके बारे में न बताने और पुलिस में शिकायत न करने के लिए धमकाया भी गया था।

रेप का आरोप लगने के बाद से दाती महाराज दिल्ली स्थित अपने आश्रम से गायब हैं। पुलिस ने बताया कि शिकायतकर्ता ने दाती महाराज के अलावा तीन और लोगों के खिलाफ केस दर्ज करवाया है। साउथ दिल्ली पुलिस की डिस्ट्रिक्ट इनवेस्टिगेशन यूनिट मामले की जांच कर रही है। पुलिस का कहना है कि इस मामले में दाती महाराज को भी पूछताछ के लिए समन किया जाएगा।

गौरतलब है कि दक्षिणी दिल्ली के फतेहपुर बेरी में दाती महाराज का आश्रम है और कई नामी हस्तियां यहां पहुंचती हैं।

आपको बता दें कि दाती महाराज `शनि शत्रु नहीं मित्र है` कार्यक्रम करके चर्चा में आए थे। दाती महाराज का जन्म 10 जुलाई 1950 को राजस्थान के पाली जिले के अलावास गांव में हुआ। दाती महाराज का असली नाम मदन लाल है। वे 7 साल की उम्र में संत बने थे। दाती महाराज नियमित रूप से नेशनल न्यूज चैनलों पर नजर आते हैं। उनकी खुद की वेबसाइट (daati.com) है और इसके साथ ही वे शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग करते हैं। दाती महाराज पंचांग और राशिफल से जुड़े विडियो और अन्य जानकारियां सोशल मीडिया पर पोस्ट करते हैं। उनके फेसबुक पेज को 34 लाख से ज्यादा लोग फॉलो करते हैं।

दाती महाराज की वेबसाइट के मुताबिक, उनका एक अहसास नाम से चैनल भी है। अपनी इस पहल के तहत वे यूरोप और मिडिल ईस्ट के लोगों के बीच सनातन धर्म का संदेश पहुंचाते हैं। इसके लिए ही दाती महाराज की ओर से यूरोप और मिडिल ईस्ट में इस चैनल की शुरुआत की है।


 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।  



Copyright © 2018 samachar4media.com