Share this Post:
Font Size   16

पूर्व प्रधानमंत्री की सजा के बाद TV चैनल ने लिया ये बड़ा फैसला...

Saturday, 14 July, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

 

पाकिस्‍तान के सरकारी चैनल पीटीवी ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की कवरेज पर प्रतिबंध लगा दिया है। पीटीवी ने आंतरिक आदेश जारी कर कहा है कि किसी भी प्रोग्राम में दोषी लोगों को नहीं दिखाया जाएगा और न ही उनका जिक्र ही किया जाएगा।

 

इस आंतरिक आदेश में लिखा गया है, 'कृपया ध्‍यान देंदोषी करार दिए किसी भी शख्‍स को पीटीवी पर न तो दिखाया जाता है और न उनके बारे में कोई प्रोग्राम किया जा सकता है। ऐसे शख्‍स का न तो पेड ऐडवरटाइजमेंट चलाया जा सकता है और न ही न्‍यूजकरंट अफेयर्स और टॉक शो। इसे कड़ाई से लागू किया जाना है।हालांकिऑर्डर में नवाज शरीफ का नाम नहीं लिखा गया हैलेकिन पाकिस्‍तानी मीडिया में स्‍पष्‍ट तौर पर नवाज शरीफ को बैन किए जाने की बात लिखी गई है।

 

यह आदेश तब पारित किया गया है जब हाल ही में सत्ता से बेदखल कर दिए गए पूर्व पीएम नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम को एवनफील्ड केस में क्रमशः 10 और 7 साल की सजा सुनाई गई। 

 

बता दें कि पाकिस्तान की एक अदालत ने एवनफील्ड अपार्टमेंट मामले में नवाजउनकी बेटी मरियम और दामाद कैप्टन (सेवानिवृत्त) मोहम्मद सफदर को दोषी ठहराया था। नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज अभी तक लंदन में थीं । दोनों जैसे ही शुक्रवार रात लंदन से पाकिस्तान लौटे, उन्हें लाहौर के एयरपोर्ट से ही गिरफ्तार कर लिया गया। उन दोनों को रावलपिंडी स्थित अदियाला सेंट्रल जेल में रखा गया है, जहां दोनों को B क्लास की सुविधाएं मिलेंगी। अबु धाबी से लाहौर पहुंचे नवाज शरीफ को हवाई अड्डे पर ही गिरफ्तार कर लिया गया और विशेष विमान से इस्लामाबाद ले जाया गया। 

 

 

समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।



पोल

क्या इंडिया टीवी के चेयरमैन रजत शर्मा का क्रिकेट की दुनिया में जाना सही है?

हां, उम्मीद है कि वे वहां भी उल्लेखनीय कार्य कर सुधार करेंगे

नहीं, जिसका काम उसी को साजे। उनका कर्मक्षेत्र मीडिया ही है

बड़े लोगों की बातें, बड़े ही जाने, हम तो सिर्फ चुप्पी साधे

Copyright © 2018 samachar4media.com