Share this Post:
Font Size   16

वॉट्सऐप पर फोटो भेज पत्रकार ने मांगा था जवाब, पर मिली जेल...

Wednesday, 28 February, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

एक पत्रकार को सरकारी अधिकारी को वॉट्सऐप पर एक संदेश भेजना कितना भारी पड़ गया। उसकी मंशा को इस संदेश पर अधिकारी से जवाब मांगने की थी, पर मिली उसे जेल।

 दरअसल, पत्रकार ने मैट्रिक परीक्षा के लीक प्रश्नपत्र को जिला शिक्षा पदाधिकारी को वॉट्सऐप पर यह जानने के लिए भेजा कि क्या पेपर लीक हो गया है। लेकिन अधिकारियों ने इस मामले की जांच कराने की बजाय पत्रकार पर ही प्रश्नपत्र लीक करने और उसे वायरल करने का मुकदमा दर्ज करा दिया, जिसके बाद पुलिस ने पत्रकार को जेल भेज दिया।  

लेकिन नालंदा के मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी की अदालत ने पत्रकार राजीव रंजन को जमानत सोमवार को जमानत दे दी।

बताया गया कि जिला शिक्षा पदाधिकारी द्वारा दर्ज कराई गई एक प्राथमिकी के आधार पर पत्रकार की गिरफ्तारी की गई है। हालांकि प्राथमिकी बेहद हल्के-फुल्के ढंग की बताई गई, जिसमें पर्चा आउट मामले को पत्रकार द्वारा सोशल मीडिया पर शेयर किए जाने की बात कही गई। इस बात को लेकर नेशनल जर्नलिस्ट एसोसिएशन ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी पत्र लिखकर पत्रकार की रिहाई और दोषी पदाधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पत्रकार राजीव रंजन बिहार की एक न्यूज एजेंसी और साप्ताहिक अखबार के संवाददाता के रूप में कार्यरत हैं। नालंदा में इन दिनों मैट्रिक परीक्षा चल रही हैं और 22 फरवरी को उन्हें सामाजिक विज्ञान का प्रश्नपत्र हाथ लगा था, जिसकी पुष्टि के लिए उन्होंने डीईओ विमल ठाकुर को फोन किया, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। इसके बाद, पत्रकार ने डीईओ के वॉट्सऐप पर प्रश्नपत्र को सेंड कर उनका पक्ष जानना चाहा कि यह प्रश्नपत्र लीक कैसे हुआ, इस मामले में दोषी कौन हैं? लेकिन डीईओ ने इसे बिहार परीक्षा अधिनियम 1981 और आईटी नियम 2000 का उल्लंघन मानते हुए पत्रकार पर ही केस दर्ज करा दिया।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी राय, सुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



पोल

क्या इंडिया टीवी के चेयरमैन रजत शर्मा का क्रिकेट की दुनिया में जाना सही है?

हां, उम्मीद है कि वे वहां भी उल्लेखनीय कार्य कर सुधार करेंगे

नहीं, जिसका काम उसी को साजे। उनका कर्मक्षेत्र मीडिया ही है

बड़े लोगों की बातें, बड़े ही जाने, हम तो सिर्फ चुप्पी साधे

Copyright © 2018 samachar4media.com