Share this Post:
Font Size   16

रिपोर्टिंग के दौरान अश्लील हरकत पर महिला रिपोर्टर ने दे मारा माइक...

Monday, 07 May, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

 

खबरों के लिए एक पत्रकार को क्या-क्या सहना पड़ता है, इसका अंदाजा भी कई बार लगाना मुश्किल हो जाता है और वह भी तब जब पत्रकार महिला हो तो। महिला पत्रकारों ने कई बार रिपोर्टिंग के दौरान सार्वजनिक जगहों पर उत्पीड़न कि शिकायतें की हैं, इसके बावजूद ये बेखौफ शरारती महिलाओं के साथ छेड़छाड़ करने से बाज नहीं आते हैं। इस बार फिर एक महिला रिपोर्टर रिपोर्टिंग के दौरान छेड़छाड़ का शिकार हुई है। यह मामला मेक्सिको के ग्वाडलाहारा स्टेडियम के बाहर का है।


दरअसल, यह घटना 26 अप्रैल को फॉक्स स्पोर्ट्स चैनल की महिला रिपोर्टर मारिया फर्नेंडा मोरा के साथ घटी। वह जब एक फुटबाल मैच को लेकर ग्वाडलाहारा स्टेडियम के बाहर से लाइव रिपोर्टिंग कर रही थीं, कि तभी उनके आस-पास कुछ हुड़दंगी समर्थकों की भीड़ जमा हो गई, जो टीम के समर्थन में नारेबाजी कर रही थी। इस भीड़ में मौजूद एक शख्स ने उन्हें गलत तरीके से पीछे से छू लिया। शख्स की इस हरकत पर महिला रिपोर्टर भड़क गई और उसके सिर पर माइक दे मारा। वहीं लाइव टीवी पर छेड़छाड़ की यह घटना कैमरे में शूट हो गई।


मोरा ने इस घटना का जिक्र हाल ही में अपने ट्विटर अकाउंट पर किया और आरोपी को लाइव टीवी पर मारने पर माफी मांगने से यह कहते हुए इनकार कर दिया कि अब महिलाएं अपने साथ होने वाली ज्यादतियों पर चुप नहीं बैठेंगी। 


उन्होंने लिखा, 'रिपोर्टिंग के दौरान दर्शक मेरे आस-पास इकट्ठा होकर अपनी टीम की जीत का जश्न मना रहे थे कि तभी एक शख्स ने मुझे पीछे से गलत तरीके से टच किया। पहले मैंने सोचा कि दर्शकों के धक्का देने के कारण किसी ने पीछे से मुझे टच किया और मैं अपना काम करती रही। मेरे चुप रहने से उस शख्स का हौंसला बढ़ गया और उसने दो बार मेरे कूल्हे को अपने हाथ से टच किया। इसके बाद मैंने अपने बचाव का फैसला लिया।'


मोरा ने लिखा है, 'मैं तुरंत पीछे घूमी और उसे अपने माइक से मारकर पीछे हटाया। मुझे अपने किए पर पछतावा नहीं है। यौन शोषण पर अब महिलाएं चुप नहीं बैठेंगी। मैं अपना बचाव किया था क्योंकि अब महिलाएं कहीं नहीं जाएंगी और ना ही रुकेंगी। गुरुवार को जो मेरे साथ हुआवो हर रोज सार्वजनिक जगहों पर हजारों महिलाओं के साथ होता है। फर्क सिर्फ इतना है कि जब मेरे साथ हुआ तो वो सब कुछ टीवी पर लाइव चला और मैंने अपना बचाव करने का फैसला लिया। मेरी यही प्रतिक्रिया वायरल हो गई।'


उल्लेखनीय है कि कुछ समय पहले ही ब्राजील की कई खेल पत्रकारों ने रिपोर्टिंग के दौरान होने वाली छेड़छाड़ का जिक्र किया था और इसके खिलाफ बाकायदा एक कैंपेन चलाया थाजिसे सोशल मीडिया पर काफी समर्थन भी मिला था।

यहां देखें विडियो-


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं। 



Copyright © 2018 samachar4media.com