Share this Post:
Font Size   16

टीवी पत्रकार पीयूष पांडे को मिला बड़ा पद, संभाली अहम जिम्मेदारी

Published At: Saturday, 09 February, 2019 Last Modified: Saturday, 09 February, 2019

समाचार4मीडिया ब्यूरो।।

वरिष्ठ टीवी पत्रकार पीयूष पांडे ने ‘एबीपी न्यूज’ से अपनी पारी को विराम देकर अपना नया सफर अब वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी के नेतृत्व में ‘सूर्या टीवी’ के साथ शुरू किया है। उन्होंने यहां बतौर एग्जिक्यूटिव एडिटर (आउटपुट) जॉइन किया है। पीयूष पांडे के करियर ग्राफ का ये ऐसा मुकाम है जहां उन पर एक नेशनल न्यूज चैनल के संचालन का लगभग पूरा दायित्व है। 

‘एबीपी न्यूज’ से पहले पीयूष पांडे ‘आजतक’ में कार्यरत थे और वहां वह पुण्य प्रसून बाजपेयी के चर्चित शो ‘दस्तक’  के प्रड्यूसर थे।

पत्रकारिता में करीब दो दशक का अनुभव रखने वाले पीयूष देश के उन चुनिंदा पत्रकारों में हैं, जिन्हें प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक, वेब मीडिया के साथ फिल्मी दुनिया में काम करने का खासा अनुभव है और उनकी पहचान उनका वर्सेटाइल होना ही है। इतना ही नहीं, पीयूष की एक पहचान व्यंग्यकार की भी है। उनके दो व्यंग्य संग्रह 'छिछोरेबाजी का रिजोल्यूशन' 2012 में राजकमल प्रकाशन से और 'धंधे मातरम' 2017 में प्रभात प्रकाशन से प्रकाशित हो चुका है। फेसबुक पर उनके वन लाइनर खासे चर्चित हैं।

पीयूष ने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 1998 में ‘अमर उजाला’ अखबार से की थी। 2001 में ‘नवभारत टाइम्स’ ऑनलाइन की लॉन्चिंग टीम में रहे और फिर करीब ढाई साल उसे संभाला भी। ‘आजतक’ में टीवी पत्रकारिता का लंबा अनुभव लेने के बाद उन्होंने 2007 में ‘सहारा समय’ में आउटपुट हेड की जिम्मेदारी संभाली। ‘जी न्यूज’ में बतौर एग्जिक्यूटिव प्रड्यूसर काम किया, तो आईबीएन-7 में उन्होंने बतौर सोशल मीडिया एडिटर काम किया। हालांकि, आईबीएन-7 की उनकी पारी खासी छोटी रही। इसके बाद ‘आजतक’ होते हुए पिछले साल ‘एबीपी न्यूज’ में आए थे।

पीयूष की एक पहचान सोशल मीडिया एक्सपर्ट की भी है। दैनिक भास्कर, दैनिक जागरण, प्रभात खबर, कादम्बिनी समेत कई पत्र पत्रिकाओं में इंटरनेट और सोशल मीडिया पर उनके कॉलम प्रकाशित होते रहे हैं। ‘जी न्यूज’ में सोशल मीडिया से जुड़ा देश का पहला दैनिक शो ट्रेंडिंग न्यूज शुरू कराने का श्रेय उन्हीं को जाता है। पीयूष ने 'ब्लू माउंटेंस' फिल्म में बतौर एसोसिएट डायरेक्टर काम किया और उनकी फिल्मों की जानकारी व दिलचस्पी अकसर फेसबुक पोस्ट में दिखायी देती रहती है।

मूल रूप से आगरा के रहने वाले पीयूष पांडे ने पत्रकारिता और सूचना तकनीक में मास्टर्स डिग्री ली है। आगरा यूनिवर्सिटी से पत्रकारिता के कोर्स के दौरान गोल्ड मेडलिस्ट रहे पीयूष पांडे को सीएसडीएस समेत कई अहम संस्थानों की फेलोशिप भी मिल चुकी है।



पोल

सोशल मीडिया पर पत्रकारों को निशाना बनाया जा रहा है, क्या है आपका मानना?

पत्रकार भी दूध के धुले नहीं हैं, उनकी भी जवाबदेही होनी चाहिए

ये पेड आईटी सेल द्वारा पत्रकारिता को बदनाम करने की साजिश है

Copyright © 2019 samachar4media.com