Share this Post:
Font Size   16

जानें, क्यों रूबिका लियाकत ने लाइव शो में गेस्ट को किया ‘गेट आउट’

Published At: Tuesday, 12 March, 2019 Last Modified: Tuesday, 12 March, 2019

समाचार4मीडिया ब्यूरो।।

लोकसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान के साथ ही एक नया विवाद भी खड़ा हो गया है। विवाद इस बात को लेकर की चुनाव की तारीखों के बीच रमजान का महीना भी पड़ रहा है। कई विपक्षी दल चुनाव आयोग के इस फैसले के विरोध में हैं और इसे भाजपा समर्थक फैसला करार दे रहे हैं। 

इसी विषय पर चर्चा के लिए एबीपी न्यूज़ के डिबेट शो ‘सीधा सवाल’ में कुछ अतिथियों को आमंत्रित किया गया था, जिसमें इस्लामिक स्कॉलर इलियास शर्फुद्दीन भी शामिल थे। इस शो को रूबिका लियाकत होस्ट करती हैं। डिबेट शुरू होते ही रमजान में चुनाव के पक्ष और विपक्ष में बहस होने लगी, इस बीच इलियास शर्फुद्दीन कुछ ऐसा कह गए जिससे रूबिका का पारा एकदम से हाई हो गया। उन्होंने न केवल शर्फुद्दीन को जमकर लताड़ा बल्कि उनसे शो छोड़कर जाने को भी कह दिया। रूबिका के इस एंग्री वुमेन वाले रूप की सोशल मीडिया पर जमकर सराहना हो रही है। कई यूजर्स ने तो एंकर को ऐसे अतिथियों को शो का हिस्सा न बनाने की सलाह भी दे डाली है।

दरअसल, रूबिका लियाकत ने सवाल पूछा था कि मुस्लिम समाज कब तक किसी का वोट बैंक बना रहेगा? इसके जवाब में इलियास शर्फुद्दीन ने कहा ‘जवान, किसान और मुसलमान का लिहाज न मोदी को है और न मोदी के दलाल न्यूज एंकरों को।’ 

इतना सुनते ही रूबिका भड़क गईं। उन्होंने शर्फुद्दीन को फटकारते हुए कहा ‘ख़बरदार, अब बहुत हो गया। आप फ़ौरन यहां से निकल जाइए। आपको क्या लगता है कि आप कुछ भी बकवास करेंगे और मैं बैठकर आपको सुनती रहूंगी। इलियास शर्फुद्दीन...यू हैव टू बिहेव प्रॉपर्ली। यह आपके लिए चेतावनी है। वरना मुझे पता है कि एक विंडो कम कैसे करनी हैं। डिबेट की डेमोक्रेसी का नाजायज़ फायदा उठाएंगे तो मैं आपको आउट कर दूंगी’।

 रूबिका का गुस्सा इतने से ही शांत नहीं हुआ, उन्होंने आगे कहा ‘गेट आउट, गेट आउट फ्रॉम योर चेयर। इलियास शर्फुद्दीन मैं आपसे कह रही हूँ कि आप मेरी डिबेट से चले जाइये। आप यहां बैठकर साधुओं को नंगा बुलाएँगे, आप यहां बैठकर एंकरों को दलाल बुलाएँगे, और मैं यहाँ आपका ज्ञान सुनूंगी। विंडो कम की जाये।’ 

रूबिका ने यह भी साफ़ कर दिया है कि अब वो इलियास शर्फुद्दीन को तब तक किसी डिबेट शो का हिस्सा नहीं बनायेंगी, जब तक कि वो माफ़ी नहीं मांग लेते। इस्लामिक स्कॉलर की इस अमर्यादित भाषा का भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने भी विरोध किया।

आप रूबिका लियाकत के ये कड़े तेवर नीचे विडियो पर क्लिक कर देख सकते हैं..

 

सोशल मीडिया पर रूबिका को काफी सराहा जा रहा है। धीरज नामक एक ट्विटर यूजर ने लिखा है ‘हर सच्चे भारतीय को आपको सलाम करना चाहिए, आप हमेशा हमारे देश की संस्कृति और भाईचारे की असल तस्वीर पेश करती हैं’। इसी तरह सिद्धि ने लिखा है ‘मैं पुलवामा हमले के बाद से रूबिका के हर डिबेट देख रही हूँ, वह टू द पॉइंट बात करती हैं और जो सही है उसका साथ देती हैं। मैंने मीडिया में उनके जैसा कोई नहीं देखा’।



पोल

सोशल मीडिया पर पत्रकारों को निशाना बनाया जा रहा है, क्या है आपका मानना?

पत्रकार भी दूध के धुले नहीं हैं, उनकी भी जवाबदेही होनी चाहिए

ये पेड आईटी सेल द्वारा पत्रकारिता को बदनाम करने की साजिश है

Copyright © 2019 samachar4media.com