Share this Post:
Font Size   16

'Outlook ' मैगजीन को मिला नया एडिटर, 10 मई से संभालेंगे जिम्मेदारी...

Saturday, 05 May, 2018

निशांत सक्‍सेना।।

वरिष्‍ठ पत्रकार रुबेन बनर्जी 'आउटलुक मैगजीन' में बतौर एडिटर जॉइन करने जा रहे हैं। उन्‍होंने ट्विटर पर इसकी घोषणा की है। बनर्जी ने कहा है, 'आउटलुक जैसी पत्रिका के साथ काम करना मेरे लिए काफी सम्‍मान की बात होगी। विनोद मेहता जैसे वरिष्‍ठ पत्रकार इसके संपादक रह चुके हैं। ऐसे में पूर्ववर्ती संपादकों ने जो स्‍टैंडर्ड सेट किए हैं, उन्‍हें बनाए रखना मेरे लिए काफी बड़ी चुनौती होगी।' बनर्जी ने बताया, 'मैं वहां पर 10 मई को जॉइन करूंगा। इसके बाद आगे के प्‍लान पर चर्चा होगी।'

बनर्जी पहले 'हिन्‍दुस्‍तान टाइम्‍स' में नेशनल अफेयर्स एडिटर के तौर पर काम कर रहे थे। लेकिन ओडिशा के मुख्‍यमंत्री नवीन पटनायक पर किताब लिखने में व्‍यस्‍तता के कारण उन्‍होंने पिछले साल दिसंबर में यह नौकरी छोड़ दी थी़। बनर्जी की यह किताब जुलाई 2018 में पब्लिश होगी। बनर्जी ने बताया कि यह नवीन पटनायक की अधिकृत जीवनी नहीं है बल्कि नॉवेल के रूप में पढ़ी जाएगी।

इससे पहले बनर्जी 'अल जजीरा' (Al Jazeera) के साथ ऑनलाइन एडिटर के रूप में काम कर चुके हैं। इसके अलावा वह 'इंडिया टुडे' (India Today) और 'इंडियन एक्‍सप्रेस' (Indian Express) के साथ भी काम कर चुके हैं।

मैगजीन जर्नलिज्‍म के बारे में उन्‍होंने कहा, ' बेशक तमाम चुनौतियां और बाधाएं हैं लेकिन मेरा मानना है कि ईमानदार पत्रकारिता के लिए हमेशा जगह रहेगी। इसलिए मैगजींस को इसमें भूमिका निभानी होगी और अच्‍छी मैगजींस हमेशा आगे बढ़ेंगी।' वही, बनर्जी द्वारा ट्विटर पर इस घोषणा के बाद लोगों ने उन्‍हें शुभकामनाएं देनी शुरू कर दी हैं।


समाचार4मीडिया.कॉम देश के प्रतिष्ठित और नं.1 मीडियापोर्टल exchange4media.com की हिंदी वेबसाइट है। समाचार4मीडिया में हम अपकी राय और सुझावों की कद्र करते हैं। आप अपनी रायसुझाव और ख़बरें हमें mail2s4m@gmail.com पर भेज सकते हैं या 01204007700 पर संपर्क कर सकते हैं। आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर भी फॉलो कर सकते हैं।  

Tags headlines


पोल

क्या इंडिया टीवी के चेयरमैन रजत शर्मा का क्रिकेट की दुनिया में जाना सही है?

हां, उम्मीद है कि वे वहां भी उल्लेखनीय कार्य कर सुधार करेंगे

नहीं, जिसका काम उसी को साजे। उनका कर्मक्षेत्र मीडिया ही है

बड़े लोगों की बातें, बड़े ही जाने, हम तो सिर्फ चुप्पी साधे

Copyright © 2018 samachar4media.com