Share this Post:
Font Size   16

मुश्किल में मीडिया दिग्गज राघव बहल, घर-दफ्तर पर छापा

Published At: Thursday, 11 October, 2018 Last Modified: Thursday, 11 October, 2018


समाचार4मीडिया ब्यूरो ।।

मीडिया दिग्गज राघव बहल इन दिनों मुश्किलों में घिर गए हैं। उनके घर और दफ्तर पर गुरुवार सुबह आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की है। आयकर विभाग ने गुरुवार को कथित कर चोरी से जुड़े एक मामले में यह तलाशी ली है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, राघव बहल के साथ ही कुछ अन्‍य लोगों के परिसरों की भी तलाशी ली जा रही है। राघव बहल 'नेटवर्क 18' ग्रुप  के संस्थापक रहे चुके हैं, इस वक्त ‘द क्विंट’ मीडिया वेंचर का संचालन करते हैं।

राघव बहल ने अपने बयान में कहा है कि वह इस समय मुंबई में हैं। उन्होंने एडिटर्स गिल्ड को लिखे अपने बयान में कहा है कि मैं गिल्ड को इस चिंताजनक स्थिति के बारे में बताना चाहता हूं कि मेरे घर और ‘द क्विंट’ के दफ्तर में आयकर विभाग के दर्जनों अधिकारी 'सर्वे' के लिए आ घुसे। राघव बहल ने बताया है कि वह मुंबई से दिल्ली आ रहे हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि हम नियम से टैक्स भरने वाले संस्थान हैं। हम सभी उचित वित्तीय कागजात जांच के लिए पेश करेंगे।

राघव बहल ने इसके साथ ही कहा कि उन्होंने अपने घर में आए आयकर अधिकारी से साफ तौर पर कड़े शब्दों में कहा कि उनके घर से पत्रकारिता से संबंधित कोई भी दस्तावेज लेने या किसी ई-मेल को देखने की कोशिश न की जाए। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा किया गया तो इसके खिलाफ जरूरी कदम उठाए जाएंगे।

बहल ने उम्मीद जताई कि इस मामले में एडिटर्स गिल्ड उनका साथ देगा और इससे भविष्य में किसी भी मीडिया संस्थान के खिलाफ होने वाली ऐसी कार्रवाई के खिलाफ एकजुट होने की मिसाल पेश की जा सकेगी।

वहीं दूसरी तरफ, केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ‘द क्विंट’ के दफ्तर पर छापेमारी के सवाल पर कहा कि मुझे देखना पड़ेगा कि वह कौन सा मीडिया हाउस है। उसका कारण क्या है मुझे नहीं मालूम। मेरे ख्याल में हम लोकतंत्र की आजादी के पूरे पक्षधर हैं। हम लोगों ने इमरजेंसी का विरोध किया था। आज लोकतंत्र में मीडिया को आलोचना का पूरा अधिकार है। वे प्रधानमंत्री और सारे वरिष्ठ मंत्रियों की की आलोचना करते हैं और सवाल पूछते हैं। लेकिन अगर किसी मीडिया हाउस ने कोई भ्रष्टाचार किया है उसकी जवाबदेही होगी, लेकिन मुझे तथ्यों की जानकारी लेनी होगी।

 

 



पोल

मीडिया में सर्टिफिकेशन अथॉरिटी को लेकर क्या है आपका मानना?

इस कदम के बाद गुणवत्ता में निश्चित रूप से सुधार आएगा

मीडिया अलग तरह का प्रोफेशन है, इसकी जरूरत नहीं है

Copyright © 2018 samachar4media.com