Share this Post:
Font Size   16

मुश्किल में फंसे 'साधना प्राइम न्यूज' के MD समेत 4 बड़े अधिकारी, केस दर्ज

Published At: Wednesday, 21 November, 2018 Last Modified: Wednesday, 21 November, 2018

समाचार4मीडिया ब्यूरो।।

कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने 'साधना प्राइम न्यूज' चैनल के एमडी व एडिटर-इन-चीफ समेत चार अधिकारियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है। चारों पर एक बिल्डर से 10 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगने का आरोप है।

उप्र के गाजियाबाद में इंदिरापुरम थाना क्षेत्र के वैभवखंड निवासी पीड़ित बिल्डर का आरोप है कि चैनल में उनके निर्माण कार्य को लेकर गलत खबर दिखाई जा रही है। यही नहीं, विरोध करने पर उनसे 10 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी जा रही है। बिल्डर ने आरोपियों पर मारपीट करने, सवा 5 लाख रुपए और सोने की चेन व अंगूठी लूटने का भी आरोप लगाया है।

जानकारी के अनुसार, रियल एस्टेट कंपनी शिप्रा स्टेट लिमिटेड के डायरेक्टर दीपक गर्ग का इंदिरापुरम के वैभवखंड में दफ्तर है। वर्ष 2001 में गाजियाबाद विकास प्राधिकरण के साथ वैभवखंड में हाउसिंग प्रोजेक्ट बनाने के लिए उनका करार हुआ था।

दीपक का आरोप है कि मार्च 2018 में नोएडा सेक्टर-63 स्थित इस न्यूज चैनल पर 'जीडीए और शिप्रा का महाघोटाले का पूरा पर्दाफाश' नाम से खबर चलाई गई, इससे उनकी कंपनी की छवि खराब हुई। दीपक का आरोप है कि न्यूज चैनल के एमडी व एडिटर-इन-चीफ मोहसिन खान, प्रधान संपादक मारुफ खान, निदेशक सौरभ अरोड़ा, एके अरोड़ा और दो अज्ञात कर्मचारियों ने उनसे खबर न चलाने के एवज में 10 करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी। पैसे न देने पर लगातार कई दिनों तक उनकी कंपनी की छवि को खराब करने वाली खबर टीवी पर दिखाई गई। खबर को यू-ट्यूब, फेसबुक, ट्विटर आदि पर भी चलाया गया और कई बार रुपयों की डिमांड की गई। डिमांड पूरी न करने पर उनके खिलाफ फर्जी केस दर्ज कराने और जान से मारने की भी धमकी दी गई। आरोप है कि चैनल के अधिकारियों ने बाकायदा मेल भेजकर रुपए देकर समझौता करने का दबाव बनाया।

दीपक का यह भी आरोप है कि 27 अक्टूबर को आरोपी वैभवखंड स्थित उनके दफ्तर में पहुंचे और पिस्टल तानकर मारपीट करते हुए वहां से रुपए व अन्य सामान सामान लूटकर ले गए। इसके बाद दीपक की ओर से कोर्ट की शरण ली गई थी।



Copyright © 2018 samachar4media.com